जैसी मेहनत,वैसा परिणाम : नेटवर्क मार्केटिंग सक्सेस टिप्स इन Hindi


Hamare पूर्वज कहा करते थे " जितनी मेहनत करोगे , फल भी उतना मिलेगा " लेकिन शायद ये बात उनकी ही ज़माने में सूट करता था,क्योंकि यह बात वर्तमान में लागु नही होती।
                                   कई जॉब्स और बिज़नस में खूब मेहनत करके भी वैसा परिणाम नही मिल पाता जितना वो मेहनत करते है। इसलिए वे इस दौर में अपने रहन सहन , अपनी परिवार के आवस्यकता को पूरा नही कर पाते है।  दूसरी और दूसरे लोग कम मेहनत और कम काम के बावजूद शानदार इनकम कर लेते है।
                   आप नोकरियो में अक्सर देखते होंगे की Employee की जबरदस्त मेहनत और लगन से काम करके , कंपनी को आगे बढ़ाते है, लेकिन उनका श्रेय बॉस को मिल जाता है,प्रमोशन भी बॉस को मिलता है।
अगर कोई जिमेदारी कंपनी के एक टीम को देती है,तो टीम के कुछ member काम से दूर भागते है,लेकिन जब काम हो जाता है तो श्रय सभी को मिल जाता है,जिससे और टीम member को बुरा लगता है।
आज आप कई सरकारी और अर्धसरकारी संस्था देखे होंगे जिनमे कोई 70 % ablelity और  work नही होते है।

क्यों बेहतर है Network Marketing:-

इन सब के बीच Network Marketing हवा के झोंके की तरह ताजगी लेकर आती है। क्योंकि यह System  आपकी मेहनत,लगन,निष्ठा और समर्पण के हिसाब से आपको Successfull बनाती है।
यहाँ आपकी मेहनत का श्रय बॉस को नही बल्कि आपको मिलती है।आपकी पल पल की मेहनत आपके खाते में जुड़ जाते है,क्योंकि इस System में आप खूद का Business चला रहे है।

यह एक ऐसा बिज़नस है जो आपकी मेहनत को भी रुपयो में बदलता है,और आपकी बातों को भी रुपयो में बदलता है।कब कहा किस रूप में कोई आदमी आपके साथ जुड़ जाये और आपके Business को नई Raftaar दे दे कुछ कह नही सकते।
                 बस शर्त यह है कि आप काम करे।अगर आप वास्तविक में काम करते है है तो ऐसा कोई कारन नही है कि आप मेहनत करे और आपको परिणाम न मिले।
मैंने Network Marketing के धुरंधर Leader से बात की,जो आज 2,4,5,6 और 15 लाख भी कमाते है। यह सुनकर अजीब लगेगा कि वे भी इस Business में 15 हज़ार से कम का Invest किये थे। यह एक ऐसा Business है जब आपके 1000 या 1500 की टीम बन जाये तो आप काम करो या मज़े आपकी इनकम आपकी खाते में आती रहंगी।
""  यु तो मिलने वाले , हर महफ़िल में मिलते है,
     हम तो कायल है, जो दिल से मिलते है ।
    
                          
                    
Powered by Blogger.