जाने अच्छा वेतन देने वाले 5 क्षेत्रों के बारे मेंनौकरी जो कराए बेहतर कमाई


पढाई ख़त्म होते ही हर student एक बेहतर Job की तलाश में जुट जाते है। बहुत से student को यह नही मालूम होता है कि किस जॉब में अधिक इनकम होती है । और जॉब कैसे मिलेगा. जॉब पाने के बेहतरीन टिप्स तो आप जानते हो तो आप कही भी अपनी एक अलग पहचान बना सकते है।और जल्दी ही इंडिया में अपने अनुसार अपना जॉब ढूंढ सकते है।
    
जाने अच्छा वेतन देने वाले 5 क्षेत्रों के बारे मेंनौकरी जो कराए बेहतर कमाई

1.ओयल एंड गेस सेक्टर:-
ओयल और गैस सेक्टर ऐसे क्षेत्रों में गिना जा रहा है। जहां बेहतर Pay package के साथ ही अच्छी संख्या में नौकरियां दी जा रही है | कई PSU  बेहतरीन नौकरी के विकल्प उपलब्ध करा रहे हैं .इस सेक्टर में साइंस आर्ट्स और कॉमर्स  तीनों स्ट्रीम के विद्यार्थी नौकरी पा सकते हैं |
मुख्य काम :-
ऑफशोर  के विभिन्न प्रोजेक्ट में लोगों की जरूरत पड़ती है । इसमें मुख्य रुप से पेट्रोलियम इंजीनियर, जियोफिजिसिस्ट, रेडियो ऑपरेटर , जिओलॉजिस्टि आदि शामिल है|
वेतन:

शुरुआत में ही आमतौर पर साढ़े तीन से छह लाख रुपय का पैकेज मिल जाता है | 5 से 6 वर्ष के अनुभव के बाद इन्हें वार्षिक पैकेज 15 से 20 लाख रुपए मिलते हैं |
कहां मिलेगा काम:
ONGC, IOCL, भारत पेट्रोलियम जैसे कई पिसयू है, जो अच्छी सैलरी के साथ ही जॉब गारंटी भी देती है| इसमें प्राइवेट सेक्टर जैसे ब्रिटिश गैस ,रिलायंस एनर्जी, हेल्लि बर्टन आदि की सैलरी भी बेहद आकर्षक है |

2. चार्टर्ड अकाउंटें से सवारे करियर:-

चार्टर्ड अकाउंटेंट का काम और क्षेत्र काफी बढ़ा है ।
इसमें फाइनेंसियल एकाउंटिंग ,टैक्स मैनेजमेंट ,ऑडिट टिंग, कॉस्ट एकाउंटिंग से लेकर बैंकिंग और कंसल्टेंसी तक के रास्ते खुले होते हैं | CA बनने के लिए इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट का सर्टिफाइड मेंबर होना जरुरी है |
CA का मुख्य काम क्या होता है:
CA  का मुख्य काम कंपनी के साथ ऑडिट, टैक्सेशन,कंसल्टिंग और इंवेस्टिगेशन का काम संभालना होता है । इसके लिए वे फाइनेंसियल रिपोर्ट आदि तैयार करते हैं, जिससेे ऑडिट, टैक्स आदि मुद्दों पर कंपनी की साफ छवि तैयार हो।
Ca का वेतन कितना होता है:
शुरुआत से ही पांच से सात लाख रुपया का वार्षिक पैकेज मिलता है । यह अनुभव के साथ 10 से 24 लाख रुपए के पैकेज तक पहुँच जाता है।
CA करने के बाद कहां मिल सकता है काम:
इस क्षेत्र में इ एंड वाई ,डेलॉइट , ICICI जैसी कई कंपनियां अच्छा पैकेज के लिए जानी जाती है ।

3. एयर ट्रैफिक कंट्रोलर खोले बेहतर कमाई का रास्ता:

एयर ट्रैफिक कंट्रोलर का संबंध एविएशन सेक्टर से होता है । पिछले कुछ समय में प्राइवेट एयरलाइंस की संख्या में बढ़ोतरी हुई है । और आने वाले समय में और होने की संभावना है।
इतना ही नहीं खबर है कि केंद्र सरकार ने छोटे शहरों में करीब 200 एयरपोर्ट के निर्माण को हरी झंडी दे दी है ऐसे मे एयर ट्रैफिक कंट्रोलर की मांग काफी बढ़ेगी.
एयर ट्रैफिक कंट्रोलर का क्या होता है मुख्य काम:
एयर ट्रैफिक कंट्रोलर का मुख्य काम हवा में ट्रैफिक को नियंत्रित करना होता है । वह हवाई अड्डे और हवा में होने वाली आवाजाही के बीच कोआर्डिनेट करते हैं। लैंडिंग टेकऑफ से लेकर हवाई पट्टी पर हर हवाई जहाज के लिए रास्ता बताना और हवा में रास्ता तय करना एटीसी के कामों में आता है |
एयर ट्रैफिक कंट्रोलर का वेतन कितना होता है:
जूनियर  एग्जीक्यूटिव एटीसी को 2 से 4 लाख के बीच में वार्षिक पैकेज मिलता है।
कहां मिलता है काम:
इस क्षेत्र में सभी सरकारी और प्राइवेट एयरलाइंस में काम करने का मौका मिलता है । इसके साथ ही एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया में भी काम के बहुत अवसर हैं |

4. एनिमेटर बनके छा जाओ कमायी होगी दोगुनी :
एनिमेशन एक ऐसा क्षेत्र है जिसके अच्छे प्रोफेशनल की मांग पूरी दुनिया में बढ़ रही है।
मुख्य काम:
एनिमेटर के काम में स्पेशल इफेक्ट्स ,डिजिटल एनिमेशन और फिल्मों के लिए मल्टीमीडिया एलिमेंट टेलीविजन शो, कंप्यूटर गेम्स ,म्यूजिक वीडियो ,और अन्य Creation को Interesting रूप देकर  डिजाइन  करना होता है।
Animation create करके कितना कमाई कर सकते है:
2 से 3 साल के अनुभव के बाद एनिमेटर 3.30 लाख से चार लाख रुपया सलाना कमा सकता है ।
कहां मिलेगा काम:
वेबसाइट ,TV फिल्म, ad एजेंसी संस्थानों में अध्यापन आदि ।
5. कंसल्टेंट खोले बेहतर जॉब का रास्ते :
कंसल्टेंट का काम किसी भी क्षेत्र का हो सकता है। जरूरत होती है, तो उस क्षेत्र पर मजबूत पकड़ की। कंसलटेंट को पहले अपने क्लाइंट की जरूरत समझना होता है   आज कैरियर से लेकर नौकरी बिजनेस से लेकर कंपनी को ऊंचाई तक पहुंचाने में भी कंसल्टेंट की अहम भूमिका होती है।
मुख्य काम:
कंसल्टेंट को सबसे पहले अपने क्लाइंट के कामों से संबंधित जरूरी रिसर्च करना होता है ।
इस क्षेत्र में कंसल्टेंट एनालिस्ट , सीनियर कंसल्टेंट, मैनेजर प्रोजेक्ट, हेड पाटनर और वाइस प्रेसिडेंट डायरेक्टर तक के पद पर पहुंच सकता है
इसके अलावा खुद की अगले consulting एजेंसी शुरू कर सकते हैं।
वेतन:
1 साल से कम अनुभव वालों को भी 3से 6 लाख रुपए का प्रति वर्ष वेतन मिल सकता है ।अपना काम शुरू करने का ऑप्शन तो हमेशा खुला रहता ही है.
कहां मिल सकता है काम:
कंसल्टेंट ज्यादातर निजी संस्थान व कंपनियों में रखे जाते हैं.

No comments:

AGAR AAPKA KOI SAWAL HAI TO COMMENT SE PUCH SAKTE HAI.

Powered by Blogger.