12th Arts के बाद क्या करे। Arts में 12 रास्ते जिनमें कोई अपना कैरियर बना सकते हैं|




12th पास करने के बाद क्या करे। यह सवाल हर  स्टूडेंट का प्रॉब्लम बढ़ जाती है। क्यूंकि उन्हें समझ नहीं आता कि आगे कौन सा सब्जेक्ट लेकर पढ़ा जाए, कई लोगों को यह लगता है कि आर्ट्स सब्जेक्ट से केरियर बनाने में बहुत समय लग जाता है । इसलिए वे 10th के बाद दबाव में आकर साइंस तो ले लेते हैं लेकिन उनमें अच्छा परसेंटेज नहीं उठा पाते । जिसके कारण उनका आत्मविश्वास और हौसला जगमगा जाता है।
                       परेशानी यह है कि यथार्थ जो हमारे सामने नजर आते हैं , उनसे हम मुंह मोड़ लेते हैं और अंधी भीड़ के साथ दौड़ते चले जाते हैं । पहले बोला जाता था कि आर्ट्स के छात्र साइंस और  कॉमर्स के छात्रों से कमजोर होते हैं । लेकिन आज परिभाषा बदल चुकी है क्योंकि अब ऐसे कई क्षेत्र हैं जहां कला विषय के छात्रों के दरवाजे खोल दी है । जिन पर कभी साइंस कॉमर्स के छात्रों का एकाधिकार हुआ करता था ।
बात करते हैं 12th पास करने के बाद ऐसे करियर विकल्पों की जो  के छात्रों द्वारा सबसे अधिक पसंद किये जाते हैं। एक बात और एक प्रसिद्ध लेखक रोजवेलट ने अपनी पुस्तक " दिस इज माय स्टोरी" में लिखा था । कि आपकी मर्जी के बगैर कोई आपको कमतर नहीं आंक सकता .अब यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि क्या आप ऐसा कोई भी मौका सामने वालों को देते हैं अदि देते हैं तो इसकी जिम्मेदारी आपकी खुद की होगी | क्योंकि जहां तक आर्ट्स का छात्र होने से मिलने वाले केरियर विकल्पों की बात है तो आज के दौर में उसकी कोई कमी नहीं है इंटरनेट के प्रचलन में आप अपनी कला से ऑनलाइन खूब सारा पैसा भी कमा सकते हैं

1. लॉ से बनाये अपना करियर :- 
कला विषय से टू व करने के बाद छात्रों का इक बड़ा ऑप्शन लोक छेत्र में जाता है टेंट क्लास 2 के बाद लो इनती गेट इट पूरा करके कानून के छेत्र में कैरियर को नई दिशा दी जा सकती है पहले इसमें केवल b.a. llb ही होता था लेकिन समय की मांग को देखते हुए भी b.a. l l d के अतिरिक्त बिजनेस मैनेजमेंट खींच रखने वाले छात्रों के लिए bba llb और विज्ञान के छात्रों के लिए bsc llb या कॉमर्स के छात्रों के लिए बीकॉम llb पाठ्यक्रम को भी घोषणा कर दी गई है इसमें प्रवेश होने के लिए आपको एक विशेष परीक्षा देनी होगी जिसे कॉमन लो एडमिशन टेस्ट या प्लेट कहा जाता है

2. बैंकिंग सेक्टर में करियर बनाये :-
आने वाले कुछ वर्षों में एक लाख से अधिक छात्रों के लिए बैंकिंग सेक्टर की दरवाजे खुलने की संभावना है। यदि आप ग्रेजुएशन पास कर लिए हैं तो आप इस सेक्टर में अपना कैरियर बना सकते हैं।

3. कंप्यूटर में है कई कैरियर विकल्प:-
एक समय था जब कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में केवल गणित के छात्र ही प्रवेश करते थे । लेकिन समय के साथ कंप्यूटर साइंस के जानकार की भर्ती मांग को देखते हुए कई विश्वविद्यालय अब आर्ट्स के छात्रों को भी प्रवेश देते हैं । Bca यानी बैचलर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन के लिए इंटरमीडिएट में कला साइंस य कॉमर्स की कोई बाध्यता नहीं है।

4. टीचिंग में भी है भरपूर करियर :-
कला के छात्रों के एक बड़ी वर्ग में टीचिंग के प्रति उत्सुकता देखी जाती है ।लेकिन पहले आपको यह जानना होगा, कि आप टीचिंग में कैरियर किस स्तर का बनाना चाहते हैं ।स्कूल कॉलेज या विश्वविद्यालय .यदि स्कूल टीचर के तौर पर केरियर बनाना चाहते हैं ,तो अपने मनपसंद विषय में स्नातक करें फिर b.ed करें और tet यानी टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट पास करें । लेकिन अगर आप कॉलेज या विश्वविद्यालय स्तर पर नौकरी का सपना देख रहे हैं , तो यहां आपकी योग्यता और संघर्ष दोनों लंबी होगी ।इसके लिए आपको काफी पेशेंस  रखना होगा । स्नातक के बाद स्नातकोत्तर और उसके बाद विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा संचालित नेट यानी ऐसे एलिजिबिलिटी टेस्ट मैं आपको बैठा होगा ,यह परीक्षा आप को दो बार देना होता है। इसी बीच आप का जुड़ाव किसी कॉलेज में एड हॉक बेसिस पर लेक्चरर के रूप में होना चाहिए, ताकि वैकेंसी निकले तो आपकी प्राथमिकता बरकरार रहे।

5. सेना में है सबसे ज्यादा विकल्प :-
अधिकांश युवा अपना कैरियर अपने देश के लिए एक सेना के रूप में बनाना चाहता है । सेना में करियर बनाने के लिए कला विद्यार्थियों के लिए काफी मोके आते रहते हैं । ग्रेजुएशन के बाद upsc, jpsc द्वारा आयोजित परीक्षा में योजना बनाना शुरु कर दे ।क्योंकि इस परीक्षा में सालाना 500 छात्रों का चयन किया जाता है

6. मैनेजमेंट का बढ़ता दौर :-
भारत की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थां बिजनेस manager और प्रोफेशनल्स की भारी मांग ने युवाओं के लिए कैरियर काे द्वार भी खोल दिया है । 10th के बाद आप BBA यानी बैचलर इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में दाखिला ले सकते हैं ।इसके बाद आप mba का कोर्स कोर्स कर अपना करियर बना सकते हैं।

7 . सीए/सीएस बनने का सपना अब होगा पूरा :-

एक समय था जब केवल कॉमर्स के छात्र ही चार्टर्ड अकाउंट या कंपनी सेक्ट्रिशिप के क्षेत्र में प्रवेश कर सकते थे । लेकिन अब 12th के बाद आर्ट्स के छात्रों के लिए यहां दरवाजे खुल गए हैं ।आपको शायद यह जानकर हैरानी होगी कि भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट की मांग कनाडा, ब्रिटेन,ऑस्ट्रेलिया आदि देशो में हैं
8.अपनी कला का पहचाने और उसे अपना passion बनाये :-
अगर आप किसी कला जैसे संगीत, अभिनय, निर्देशन, पेंटिंग ,राइटर, फोटोग्राफी आदि  में माहिर है। और आपको लगता है ,कि आप इसमें अपना अलग पहचान बना सकते हैं तो आर्ट्स के छात्र होने के बावजूद आप का रास्ता कोई नहीं रोक सकता । आप खुद ही youtube आदि चैनलों पर देखते होंगे।कि कई सारे ऐसे लोग हैं  जो अपनी कला से ऑनलाइन ऑफलाइन ढेरों पैसे कमा रहे हैं

9. फैशन :-
युवाओं या कहे युवतियां का मनचाहा करियर विकल्पों में से एक है फैशन डिजाइनिंग। इसमें एक चीज ध्यान देने वाली बात है ।कि फैशन क्षेत्र में दो विकल्प होते हैं, पहला फैशन टेक्नोलॉजी जिसमें आपको विज्ञान और गणित जरुरी है । क्योंकि इसमें कपड़े के निर्माण से जुड़े तकनीकी पहलुओं का प्रशिक्षण दिया जाता है । लेकिन अगर आपकी रूचि फैशन डिजाइनिंग में है ,तो आर्ट्स छात्र होते हुए भी आप इसमें प्रवेश कर सकते हैं।

10.इंडिया टूरिज़्म में बनाये करियर :-
इंडिया में लगतार पर्यटकों की संख्या बढ़ती जा रही है। इससे कुछ उद्योगों को प्रत्येक एक वर्ष में एक लाख से अधिक डायरेक्ट या इनडायरेक्ट जॉब प्रोवाइड कर रहे है । इस कैरियर विकल्प की खासियत या है, कि इसमें यह जरूरी नहीं है कि आप कोई नौकरी ही करें आप ट्रेवल एजेंसी भी खोल सकते हैं ।जिसमें हॉलीडे बुकिंग, टिकटिंग, होटल बुकिंग ,टैक्सी ऑपरेशन और सहित पर्यटन में काम कर सकते हैं ।और ऐसे ही जॉब के रुप में प्रोफाशनल बिजनेस भी कर सकते है ।

11. मीडिया या पत्रकारिता मैं बनाएं केरियर :-
आज का एक बड़ा युवा का एक बड़ा वर्क वर्ग मीडिया और खासकर पत्रकारिता के और आकर्षित हो रहे हैं टाइम प्लस टू आज के बाद 3 साल का बैचलर्स इन जॉर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन या बीए जैसा पाठ्यक्रम आपको मिडिया के क्षेत्र में करियर बनाने का अवसर दे रही है।
           लेकिन यह बात का ध्यान रखे की इस क्षेत्र में बहुत संघर्स है और आपको यह गारंटी नही है कब आपको जॉबी मिल जायेगा।

12. अन्य विकल्प:-
आर्ट्स के छात्रों के लिए कई ऐसे विकल्प से भी हैं जिन पर लोगों का ध्यान नहीं  जाता है आर्ट्स से ग्रेजुएशन करने के बाद बीमा कंपनी की एक मामूली परीक्षा पास कर आप बीमा एजेंट बन सकते है ।भारतीय रेलवे या सोशल वेलफेयर के पाठ्यक्रम को पूरा कर आप ngo या गैर सरकारी समाजिक कार्यों में रोजगार तलाश सकते हैं|

Powered by Blogger.